मुख्य सचिव सुधांश पंत आज औचक निरीक्षण पर जेडीए में

On
मुख्य सचिव सुधांश पंत आज औचक निरीक्षण पर जेडीए में

राजस्थान के मुख्य सचिव (CS) सुधांश पंत आज अल सुभय जयपुर विकास प्राधिकरण (जेडीए) के ऑफिस पहुँचे ,पंत ने जेडीए मुख्यालय की बिल्डिंग में ग्राउंड फ्लोर से लेकर तीसरी मंजिल तक करीब 40 कमरों का निरीक्षण किया। इसकी सूचना मिलते ही फौरन जेडीए कमिश्नर (जेडीसी) मंजू राजपाल भी पंत के पास पहुंच गईं। इस दौरान पंत ने अधिकारियों के कंप्यूटर खोलकर पेंडेंसी की स्थिति जानी। उन्होंने कहा कि हालात संतोषजनक है।
एक-दो अधिकारी-कर्मचारी जरूर लापरवाह हैं। जल्दी ही उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए जेडीसी को निर्देश दिए गए हैं। करीब 45 मिनट तक दौरा करने के बाद पंत ने सभी अधिकारियों को जेडीए के मंथन सभागार में बुलाया। यहां करीब 15 मिनट बैठक की।

निरीक्षण के दौरान पंत जेडीए सचिव हेम पुष्पा के कमरे में भी गए। पंत ने वहां रखी फाइलों की स्थिति देखी। सचिव के लॉगिन से उनके फाइल डिस्पोजल का ट्रैक देखा। पंत ने बताया कि फाइलों का डिस्पोजल एवरेज (काम पूरा करने का समय) टाइम 9 घंटे आ रहा है। यह सबसे अच्छा है। उन्होंने बताया- मैंने दो-चार अधिकारियों के लॉगिन चेक किए। वहां किसी का डिस्पोजल एवजेर टाइम 14 तो किसी का 18 घंटे आ रहा है। पहले की तुलना में पेंडेंसी कम मिली। एक-दो अधिकारी के कमरे में पेंडेंसी 3-4 दिन की मिली। ऐसी स्थिति नहीं थी कि कोई फाइल एक-दो सप्ताह या एक माह से पड़ी है और उन पर कोई निर्णय न हुआ हो।
मीडिया की ओर से जेडीए में स्टाफ की कमी को लेकर पूछे गए सवाल पर पंत ने कहा- इन्फ्रास्ट्रक्चर की कमी है। इसे दूर करने के लिए हम चर्चा कर रहे हैं। संभावना है कि मई-जून तक निर्णय हो जाएगा।
सीएस सुधांश पंत का ढाई माह में जेडीए का यह दूसरा दौरा है। इससे पहले 23 जनवरी को भी पंत जेडीए के औचक निरीक्षण पर पहुंचे थे। गैरहाजिर मिलने पर जेडीए की तत्कालीन सचिव के अलावा एक अतिरिक्त आयुक्त और एक उपायुक्त को एपीओ किया गया था।
पंत इससे पहले परिवहन विभाग, हाउसिंग बोर्ड, संभागीय आयुक्त कार्यालय, जयपुर कलेक्ट्रेट, नगर निगम ग्रेटर मुख्यालय समेत अन्य कार्यालयों का औचक निरीक्षण कर चुके है।

Read More फोन पर बात करने को लेकर मां-बेटी में झगड़ाः हाथापाई में बेटी के सिर पर चोट लगने से मौत

मुख्य सचिव सुधांश पंत साल 2010 में जयपुर विकास प्राधिकरण के आयुक्त रह चुके हैं। ऐसे में उन्हें प्राधिकरण की कार्यशैली का अच्छा अनुभव है। पंत तीन साल पहले जींस पहनने से नाराज हो गए थे। तब वह राजस्थान में एडिशनल चीफ सेक्रेटरी थे। जोधपुर संभाग में जलदाय विभाग के अधिकारियों की बैठक में पानी की सप्लाई की समीक्षा के दौरान कलेक्ट्रेट के डीआरडीओ सभागार में अधिशासी अभियंता को जींस में देख पंत नाराज हो गए थे। उनको लताड़ लगाते हुए घर जाकर पैंट पहनकर आने को कहा था।

Read More  बाडमेर में भीषण गर्मी का रेड अलर्ट जारी, रात में भी राहत नहीं

About The Author

Post Comment

Comment List

Latest News

 करवाएं Jio का ये रिचार्ज, फ्री में मिलेगा Netflix करवाएं Jio का ये रिचार्ज, फ्री में मिलेगा Netflix
ओटीटी प्लेटफॉर्म पर सीरीज और मूवी देखना आज कल काफी ट्रेंड में है। लेकिन जब हमारे पास इनका सब्सक्रिप्शन नहीं...
क्रिकेट कोच आशीष शर्मा ने पूर्ण किया बीसीसीआई लेवल टू कोचिंग कोर्स
दिल्ली की सातों सीटों पर भाजपा ने किया जीत का दावा
मंदिर के पास शराब बेच रही एक महिला को पुलिस ने हिरासत में लिया
मतगणना को लेकर मतगणना केंद्र की तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी ने दिए आवश्यक निर्देश
उत्तराखंड हाई कोर्ट को नैनीताल से स्थानांतरित करने के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक
देश में समान नागरिक संहिता लागू करना मेरा संकल्पः नरेन्द्र मोदी