राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर एवं सिविल लाइंस फाटक आरओबी का जेडीसी मंजू राजपाल ने किया दौरा

On
राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर एवं सिविल लाइंस फाटक आरओबी का जेडीसी मंजू राजपाल ने किया दौरा

जयपुर, 15 जनवरी। जयपुर विकास आयुक्त मंजू राजपाल ने राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर एवं सिविल लाइंस फाटक आरओबी का संबंधित अधिकारियों के साथ दौरा किया।

दौरे के दौरान निदेशक अभियांत्रिकी देवेन्द्र गुप्ता, अजय गर्ग सहित संबंधित एवं वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

जयपुर विकास आयुक्त मंजू राजपाल ने निदेशक अभियांत्रिकी देवेंद्र गुप्ता से राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर के बाहरी एवं आंतरिक इंफ्रास्ट्रक्चर के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की।IMG_1480

जेडीसी ने निदेशक अभियांत्रिकी अजय गर्ग से सिविल लाइंस फाटक आरओबी के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। उन्होंने प्रोजेक्ट पूर्ण करने में आ रही समस्याओं को दूर करते हुए प्रोजेक्ट को पूर्ण करने हेतु समय सीमा तय कर पूर्ण करने के निर्देश दिये।

उल्लेखनीय है कि जयपुर विकास प्राधिकरण द्वारा जयपुर-दिल्ली एवं जयपुर-सवाई माधोपुर रेलवे लाइन पर स्थित समपार फाटक-222 सिविल लाइन्स पर चार लेन आर.ओ.बी का कार्य प्रगति पर हैं।

रेलवे समपार फाटक बन्द होने के कारण जैकब रोड़, जमनालाल बजाज मार्ग, परिवहन मार्ग एवं सवाई प्रताप मार्ग से आने वाला यातायात रेलवे समपार फाटक पर जाम हो जाता है। इस फाटक पर 13 लाख से अधिक टीयूवी (टैªफिक व्हिकल यूनिट) है। 24 घंटे में 70 से अधिक रेलगाडिया गुजरती है। इस आर.ओ.बी के निर्माण से जैकब रोड़, जमनालाल बजाज मार्ग, परिवहन मार्ग एवं सवाई प्रताप मार्ग से आने-जाने वाला यातायात सुगम होगा।

प्रथम चरण में राजस्थान इन्टरनेशनल सेन्टर के मुख्य भवन के स्ट्रक्चर निर्माण एवं बाह्य फिनिशिंग कार्य पूर्ण किया गया था। द्वितीय चरण मे आंतरिक साज-सज्जा, विद्युत, बाह्य विकास व लैण्डस्केपिंग संबंधित कार्य करवाये गये। परियोजना में निम्न सुविधाएं विकसित की गई हैं:IMG_1479

भूतल -
(1) कन्वेन्शन हॉल: ब्लॉक-ए में 500 व्यक्तियों की क्षमता का कन्वेन्शन हॉल विकसित किया गया है। इस हॉल का इन्टिरियर जयपुर के सिटी पैलेस के पैटर्न पर किया गया है। कार्पेट व फर्नीचर से सजा हुआ यह हॉल ब्लॉक-ए के सुन्दर कन्वेन्शन गार्डन से भी जुडा हुआ है। ब्लॉक-ए के प्री-फंक्शन हॉल में हवामहल म्युरल व शेष दीवारों पर जयपुर.किले के पैटर्न को इन्टिरियर में शामिल किया गया है। कन्वेशन हॉल आने वाले मेहमानो के लिये ब्लॉक ए के पोर्च से सीधे प्रवेश की व्यवस्था है। ए ब्लॉक के पोर्च के बांयी ओर श्रीगणेश प्रतिमा रिद्वी-सिद्वी के साथ स्थापित है एवं दांयी ओर सुन्दर चित्रकारी की गई है जिसमें नाथद्वारा की टेराकोटा टाईल्स राजस्थान की आदिवासी संस्कृति को प्रस्तुत करती है।

(2) सेन्ट्रल लॉबी: ब्लॉक-बी में पोर्च से प्रवेश के साथ भव्य सेन्ट्रल लॉबी है जहां से सभी तलों के कॉरिडोर को देखा जा सकता है। सेन्ट्रल लॉबी में सामने रिसेप्शन काउन्टर है। इसके दोनो तरफ दीवारों पर ‘‘ग्लास-ठिकरी आर्ट वर्क‘‘ एवं ‘‘गोल्ड लिफिंग वर्क‘‘ की कारीगरी को उकेरा गया है। सेन्ट्रल लॉबी की तरफ झॉकती      4 केप्सूल लिफ्ट्स (13 व्यक्ति प्रति लिफ्ट क्षमता की) है एवं दोनो तरफ कुल 2-2 मुख्य लिफ्ट्स है, जो कि 20 व्यक्ति प्रति लिफ्ट क्षमता की है। इनमें से दोनो तरफ एक-एक लिफ्ट फायर लिफ्ट है। यह चारो मुख्य लिफ्ट्स लोअर बेसमेन्ट से द्वितीय तल के बीच संचालित की जा सकती है। दोनो तरफ की सीढियॉ बेसाल्ट स्टोन और रैलिंग लकड़ी और ग्लास से बनी हुयी है। सीढीयों की दीवारे टाईल क्लेडिगं एवं चित्रकारी से सजी है। ब्लॉक-बी के मुख्य पोर्च के दोनो तरफ भव्य गोल्डन चित्रकारी की गई है।

(3) मुख्य सभागार: ब्लॉक-सी में 650 व्यक्तियों की क्षमता का आधुनिक तकनीक से बना मुख्य सभागार है। जिसकी सभी दीवारों को एकोस्टिक पैनल के साथ साथ झरोखों व मेहराबों के पैटर्न के इंटिरियर में तैयार किया गया है। सभागार के प्रथम तल की बालकनी पर जाने के लिए सिढीयों के साथ ही दो लिफ्टों (13 व्यक्ति प्रति लिफ्ट क्षमता) की व्यवस्था की गई है। सभागार के साथ ही टप्च् रूम को पेन्ट्री व अन्य सुविधा के साथ तैयार किया गया है। मुख्य सभागार के दोनो ओर ग्रीन रूम, सुविधाओं व बैक स्टेज एरिया विकसित किया गया है। सभागार की विशेष पंचकोणीय वास्तु के साथ दोनो ओर के कॉरिडोर को महराबों व जालीदार झरोखों के इंटिरियर के साथ आर्ट गैलरी के लिए विकसित किया गया है। स्टेज पर वीडीयो वॉल, दीवारों पर एल.ई.डी. वॉल बेहतरीन ऑडियो सिस्टम व स्टेज लाईटिंग की व्यवस्था की गई है। मुख्य सभागार से जुड़ा प्री-फंक्शन हॉल तीनों तरफ जैसलमेर किले के महलों, मेहराबो की दीवारों वाले पैटर्न तथा एक तरफ जैसलमेर पत्थर की स्वर्णिम आभा में तराशी हवेलियों की सुन्दर झलक प्रस्तुत करता है। मुख्य सभागार में आने वाले मेहमानो के लिये ब्लॉक-सी के पोर्च से सीधे प्रवेश की व्यवस्था है। सी-ब्लॉक के पोर्च के दायीं ओर नटराज एवं बायीं ओर सुन्दर चित्रकारी की गई है।


प्रथम तल -

(1) मिनी ऑडिटोरियम: ब्लॉक-ए में दो आधुनिक सुविधाओं से युक्त मिनी ऑडिटोरियम विकसित किये गये है। जिसकी क्षमता 172 व्यक्ति प्रति ऑडिटोरियम है। यहॉ स्टेज पर एलईडी डिस्पले पैनल, प्रोजेक्टर एवं स्टेज लाईटिंग की व्यवस्था की गई है। ऑडिटोरियम में पीछे स्थित कॉरिडोर दोनो ऑडिटोरियम व ग्रीन रूमस् को आपस में जोडता है।

(2) मल्टीपर्पज हॉल: ब्लॉक-ए में लगभग 200 व्यक्तियों की क्षमता का हॉल तैयार किया गया है जो मेहराबों व बडी-बडी खिडकियों से आती प्राकृतिक रोशनी से भरा है। इसके पास ही प्री-फंक्शन हॉल है, जिसकी दिवारो पर किले की प्राचीर के अन्दर हो रहे राजस्थानी विवाह की खूबसूरत झॉकी को मारवाड़ी चित्रशैली में चित्रित कर निखारा गया है एवं एक दिवार पर सुन्दर मेहराबों के बीच उदयपुर की झीलों व महलो की झाकियों को उकेरा गया है।

(3) प्रशासनिक ब्लॉक: ब्लॉक-बी में स्थित इस क्षेत्र में भवन के डायरेक्टर व सेक्रेटरी के लिए फर्नीचर व अन्य सुविधा युक्त कक्ष बनाए गए है। यहॉ लगभग 50 क्षमता का बोर्ड रूम है। स्टाफ के बैठने के लिए केबिन बनाए गये है। इस क्षेत्र में कंट्रोल रूम की व्यवस्था भी की गई है। इस ब्लॉक का सम्पूर्ण इंटिरियर आधुनिक इंटिरियर के रूप में किया गया है। ब्लॉक-ए से ब्लॉक-सी को जोड़ते कोॅरिडोर में लकडी व ग्लास की रैलिंग का प्रावधान किया गया है।

(4) कॉन्फ्रेन्स हॉल: ब्लॉक-सी में दो कॉन्फ्रेन्स हॉल है जो आधुनिक सुविधाओं के साथ लगभग 110 व 90 क्षमता के है। कॉन्फ्रेन्स हॉल में ऑडियो-वीडियो डिजिटल कॉन्फ्रेन्स सिस्टम, एलईडी डिस्पले पैनल व वीडीयो कॉन्फ्रेन्सिंग सिस्टम की व्यवस्था की गई है। एक हॉल का इंटिरियर पूर्णतया आधुनिक तो दूसरे का मेहराबों के साथ किया गया है। कॉन्फ्रैन्स हॉल के प्री-फंक्शन हॉल में एक दीवार पर जोधपुर के मण्डोर उद्यान की छतरी के म्यूरल को स्थापित किया गया है। यहॉ सुविधा क्षेत्र एवं ड्राय पेन्ट्री की भी व्यवस्था की गई है।


द्वितीय तल -

(1) लाईब्रेरी: दोनो ओर सीढी और लिफ्ट लॉबी से जुड़ी हुई लाईब्रेरी विकसित की गई है जो लगभग 100 व्यक्तियों की क्षमता की है। इसमें एक लायब्रेरियन रूम, रिसेप्शन एरिया, स्टोर रूम व 60 लोगो की क्षमता का रिडिंग एरिया है। 40 वर्क स्टेशन व 20 डेस्कटॉप से युक्त अत्यन्त आधुनिक ई-लाईब्रेरी भी विकसित की गई है। लाईब्रेरी में लगभग 2500 किताबो का प्रावधान है। वर्तमान में लगभग 1000 किताबें उपलब्ध है। लाईब्रेरी का इंटिरियर पूर्णत आधुनिक तर्ज पर है।

(2) लैक्चर हॉल: ब्लॉक-बी में 51-51 व्यक्तियों की क्षमता के तीन लेक्चर हॉल निर्मित किये गये है। बैठने के लिए आरामदायक स्टडी चेयर्स की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक लेक्चर हॉल में स्मार्ट इन्टरेक्टिव डिस्पले पैनल लगाए गए है। तीन काउंसलिंग रूम के साथ वेटिंग लॉबी की व्यवस्था आरामदायक फर्नीचर के साथ की गई है। लैक्चर हॉल ब्लॉक, मेम्बर्स लाउन्ज, रेस्टोरेन्ट, किचन व सुविधा क्षेत्र को जोड़ता हुआ खूबसूरत कॉरिडोर है जिसमें सुन्दर वटवृक्ष को कलमकारी शैली में चित्रित किया गया है।

(3) मेम्बर्स लाउंज: ब्लॉक-सी में भवन के सदस्यों के लिए हॉल विकसित किया गया है। जिसमें एल.ई.डी. टी.वी., वाई-फाई व बैठने के लिए आरामदायक फर्नीचर लगाए गये है। छत के बाहरी हिस्से को आर्टिफिशियल घास व पेड़-पौधो आदि से सजाया गया है।

(4) रेस्टोरेन्ट: ब्लॉक-ए में 156 व्यक्तियों की क्षमता का आधुनिक इंटिरियर के आधार पर रेस्टोरेन्ट विकसित किया गया है। जो खूबसूरत फर्नीचर, कॉफी काउन्टर व लाईट्स से सजा हुआ है। पारदर्शी ग्लास की दीवार ओर दरवाजे केे दूसरी ओर ओपन टैरेस रेस्टोरेन्ट भी विकसित किया गया है जिसे आर्टिफिशियल घास के फर्श के साथ चारो ओर प्राकृतिक पौधों ओर वृक्षों से सजाया गया है। चारो तरफ बिजली के हेरिटेज पोल के साथ बाहरी रोशनी की व्यवस्था की गई है।

(5) किचन: द्वितीय तल पर रेस्टोरेन्ट से जुड़ी एक बडी कुकिंग किचन को विकसित किया जा रहा है इस किचन को ब्लॉक-ए के सभी तलों पर स्थित किचन व बुफे एरिया को जोडती एक सर्विस लिफ्ट भी उपलब्ध करवाई जा रही है जो द्वितीय तल से अपर बेसमंेट तक जाती है।

निम्न भूतल -

(1) एग्जीबिशन हॉल : ब्लॉक-ए व ब्लॉक सी में दो एग्जीबिशन हॉल विकसित किये गये है जो क्रमशः 1370 वर्गमीटर एवं 970 वर्गमीटर क्षेत्रफल में बने है। हॉल को टाईल क्लेडिंग व टाईल फ्लोरिंग की गई है। प्रदर्शनी में लाने ले जाने वाले भारी सामानों के लिए अलग से प्रवेश द्वार दिया गया है।

(2) रेस्टोरेन्ट: ब्लॉक-सी में आधुनिक इंटिरियर की तर्ज पर रेस्टोरेन्ट तैयार किया गया है। जिसमे 125 व्यक्तियों के बैठने के आरामदयक फर्नीचर की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही एक बड़ा किचन तैयार किया जा रहा है।

(3) सेन्ट्रल लॉबी: भव्य फाउन्टेन के साथ निम्न भूतल में पोर्च से प्रवेश पर सुन्दर सेन्ट्रल लॉबी स्थित है जिसके दायीं ओर रिसेप्शन काउन्टर है बायीं ओर की दिवार पर सुन्दर चित्रकारी की गई है। सामने की दोनो दिवारो पर कैप्सुल लिफ्ट है एवं साथ ही  स्कवैश कोर्ट भी जुडा हुआ है।

बेसमेन्ट पार्किंग -

राजस्थान इन्टरनेशनल सेन्टर भवन में 240 ई.सी.यू. की क्षमता की डबल बेसमेन्ट पार्किंग बनाई गई है। पार्किंग में ड्राईवर लाउन्ज, स्टोर रूम, पब्लिक अनाउन्समेन्ट सिस्टम का प्रावधान भी दिया गया है।

अन्य सुविधा व विकास कार्य:

1ण् भवन के बाहरी क्षेत्र में तीन लैण्डस्कैप गार्डन खूबसूरत फुलवारियों व पेड-पौधो के साथ विकसित किए गए है। इनमें जगह-जगह पर विभिन्न मूर्तियों, स्तम्भो एवं फाउण्टैन से भवन की खूबसूरती को निखारा गया है।
2ण् सम्पूर्ण भवन में प्रत्येक तल पर अलग-अलग महिला एवं पुरूष सुविधा विकसित किए गए है।
3ण् प्रत्येक तल पर पीने के पानी के लिए विशेष क्षेत्र में व्यवस्था की गई है।
4ण् भवन के विशेष उपयोगी क्षेत्रों में एलएमएस सिस्टम की व्यवस्था की गई है।
5ण् भवन परिसर में चल रही गतिविधियों की जानकारी हेतु डिस्पले पैनल भी लगाए गए है।
6ण् सम्पूर्ण भवन को वातानुकूलित करने के लिए एचवीएसी सिस्टम का प्रावधान किया गया है।
7ण् सम्पूर्ण भवन में वाई-फाई सुविधा उपलब्ध है।
8ण् विद्युत आपूर्ति बाधित होने की स्थिति में पूरी क्षमता के डीजी सेटर द्वारा सम्पूर्ण भवन को निर्बाध विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था है।

यहॉ बाहर से आने वाले आगन्तुको के ठहरने के लिए 44 कमरो के गेस्ट हाऊस का निर्माण कार्य का शिलान्यास किया गया था। वर्तमान में कार्य प्रगति पर है एवं दिनांक 19.02.2024 तक पूर्ण किया जाना प्रस्तावित है। इसकी निर्माण लागत राशि रू 41.84 करोड़ है।  भवन निर्माण के साथ-साथ बैंक्वेट हॉल, स्विमिंग पूल, स्टाफ क्वार्टर, रेस्टोरेन्ट, आंतरिक खेल सुविधाएॅ आदि भी विकसित की जा रही है। भविष्य में बढती आवश्यकताओं को दृष्टीगत रखते हुये 44 अतिरिक्त कमरो का प्रावधान गेस्ट हाऊस निर्माण में रखा गया है।

About The Author

Post Comment

Comment List

Latest News

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने नरेन्द्र सिंह की जानी कुशलक्षेम मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने नरेन्द्र सिंह की जानी कुशलक्षेम
दिखाते हुए बैंक लूट की वारदात को नाकाम किया था कैशियर नरेन्द्र ने
अमृत 2.0 मिशन- विस्तृत परियोजना रिपोर्ट शीघ्र प्रस्तुत करें - समित शर्मा
राजस्थान प्रशासनिक सेवा व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तबादला सूची जारी
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता और पैनलिस्ट की घोषणा!!
‘Rose Show-2024’ में 500 से अधिक किस्म के गुलाबों की प्रदर्शनी ने लुभाया सभी का मन 
समाचार पत्रों और पत्रिकाओं का पंजीकरण अब प्रेस सेवा पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन होगा
भाजपा के प्रदेश प्रकोष्ठों के संयोजक नियुक्त