कृपाल जघीना हत्याकांड में वांछित 5000 रुपये इनामी गैंगस्टर कौशलेंद्र उर्फ कौशल हथियार सहित गिरफ्तार

On
कृपाल जघीना हत्याकांड में वांछित 5000 रुपये इनामी गैंगस्टर कौशलेंद्र उर्फ कौशल हथियार सहित गिरफ्तार

एक देशी पिस्टल, 2 देशी कट्टे, 6 जिंदा कारतूस व दो खाली मैगजीन बरामद

जयपुर 14 जनवरी। एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स एवं थाना अटलबन्ध पुलिस की टीम ने भरतपुर जिले में बड़ी कार्रवाई कर बहुचर्चित कृपाल जघीना हत्याकांड में वांछित 5 हजार के इनामी गैंगस्टर/हिस्ट्रीशीटर कौशलेंद्र उर्फ कौशल (30) निवासी हन्तरा थाना अटलबन्ध को अवैध हथियारों सहित पकड़ा है। बदमाश के पास से टीम ने एक देशी पिस्टल मय पांच कारतूस, दो खाली मैगजीन, दो देशी कट्टे 315 बोर व एक जिंदा कारतूस भी बरामद किए हैं।

      अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस अपराध एवं एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (एजीटीएफ) श्री दिनेश एमएन ने बताया कि आईजी प्रफुल्ल कुमार के सुपरविजन एवं एसपी करण शर्मा व एडिशनल एसपी विद्या प्रकाश के समन्वय तथा एसआई नरेंद्र सिंह के नेतृत्व में एएसआई शैलेंद्र शर्मा, दुष्यंत सिंह, हेड कांस्टेबल शाहिद अली, कांस्टेबल रविंद्र सिंह, महेंद्र सिंह व बृजेश कुमार को इनामी अपराधियो की सूचना संकलन एवं कार्रवाई के लिए भरतपुर रेंज की ओर रवाना किया गया था।
        एडीजी श्री एमएन ने बताया कि आसूचना संकलन के दौरान एजीटीएफ टीम को सूचना मिली कि कौशलेंद्र उर्फ कौशल किसी बड़े अपराध को अंजाम देने के लिए अन्य बदमाशों को हथियार सप्लाई करने वाला है। आसूचना डवलप कर एसएचओ अटलबन्ध मनीष शर्मा मय जाब्ते को साथ लेकर टीम ने अलख झलख बगीची क्षेत्र से इनामी बदमाश कौशलेंद्र उर्फ कौशल को अवैध हथियारों की खेप सहित दबोच लिया।
        श्री एमएन ने बताया कि इनामी गैंगस्टर कौशलेंद्र उर्फ कौशल, कृपाल जघीना व वरुण चौधरी अजमेर के बीच भरतपुर में वर्चस्व को लेकर आपस में गैंगवार चल रही है। इसके कारण जिले में कानून व्यवस्था प्रभावित रहती है। कौशलेंद्र की गिरफ्तारी होने से आम जन में पुलिस का इकबाल बुलंद होगा।
      एडीजी ने बताया कि इस कार्रवाई में एजीटीएफ के एसआई नरेंद्र सिंह, एएसआई शैलेंद्र शर्मा, दुष्यंत सिंह, हेड कांस्टेबल शाहिद अली, कांस्टेबल रविंद्र, बृजेश कुमार, महेंद्र सिंह एवं संजय कुमार की विशेष भूमिका रही। स्थानीय पुलिस टीम में एसएचओ अटल बंद मनीष शर्मा, कांस्टेबल हरवेन्द्र सिंह, अंकित, करतार, विनीत कुमार और देवेंद्र कुमार शामिल थे।
                 ----------------

Read More  सिर्फ नगरीय निकाय के अनुभव प्रमाण होने की शर्त को किया रद्द

About The Author

Post Comment

Comment List

Latest News

  न्याय संहिता से त्वरित न्याय मिलेगा और विश्वास भी बढ़ेगा- राजेंद्र शुक्ल न्याय संहिता से त्वरित न्याय मिलेगा और विश्वास भी बढ़ेगा- राजेंद्र शुक्ल
भाेपाल । भारतीय जनता पार्टी विधि प्रकोष्ठ द्वारा शनिवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में दण्ड संहिता से न्याय संहिता की...
10वीं-12वीं स्टेट ओपन परीक्षा में बड़े फर्जीवाडे का खुलासाः डमी अभ्यर्थी के रूप में परीक्षा देते बीस को पकड़ा
विदेशी ताकतों के कारण भी हमें लाेकसभा चुनाव में कम सीटें मिली : सहस्त्रबुद्धे
जी-7 व्यापार मंत्रियों की बैठक में भाग लेने रेजियो कैलाब्रिया का दौरे करेंगे गोयल
हरीश रावत ने काजी निजामुद्दीन को जीत की बधाई दी
वर्ल्ड स्काईडाइविंग डेः केंद्रीय पर्यटन मंत्री शेखावत ने उड़ते विमान से लगाई छलांग
छात्रसंघ राजनीति की पहली पाठशाला : गहलाेत