डीजीपी ने ली कॉन्स्टेबल  दीक्षांत परेड की सलामी

On
डीजीपी ने ली कॉन्स्टेबल  दीक्षांत परेड की सलामी

महानिदेशक पुलिस उमेश मिश्रा ने शुक्रवार को प्रातः राजस्थान पुलिस अकादमी में कॉन्स्टेबल रिक्रूट बैच संख्या 94 के प्रशिक्षु कॉन्स्टेबल की दीक्षांत परेड समारोह में परेड की सलामी ली। परेड का नेतृत्व कॉन्स्टेबल श्यामलाल ने किया। 

IMG-20230929-WA0489

Read More  मार्च से अब तक अवैध शराब, नकदी एवं अन्य सामग्री की जब्ती का आंकड़ा 1205 करोड़ रुपये के पार

मिश्रा ने इन कॉन्स्टेबल से विधिक परिधि में रहकर एवं पुलिस के दायित्वों को निभकर आमजन के सेवा करने का आव्हान किया। उन्होंने कहा कि पुलिस का कार्य अत्यंत चुनोतिपूर्ण  होता है और यह चुनोतियाँ निरन्तर बढ़ रही है। उन्होंने सभी प्रशिक्षुओं से पूर्ण निष्ठा और ईमानदारी के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने के लिए प्रेरित किया। 

Read More  उत्पादक, व्यापारी, मजदूर, किसान और ग्राहक एक दूसरे के पूरक, विरोधी नहीं- नारायण भाई शाह

IMG-20230929-WA0490
उन्होंने इस अवसर पर प्रस्तुत उत्कृष्ट परेड की सराहना भी की। 

Read More  भीषण गर्मी में पानी के लिए जंगल से निकला और रोड पर गड्ढे में भरा पानी चाटकर पीने लगा लेपर्ड जोड़ा

डीजीपी मिश्रा ने बताया कि प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान प्रशिक्षु कॉन्स्टेबल को इनडोर प्रशिक्षण में भारतीय संविधान, मानवाधिकार, पुलिस संगठन आदि की जानकारी देने के साथ ही व्यक्तिगत विकास के संबंध में गहन प्रशिक्षण दिया गया। साथ ही पुलिस कार्यप्रणाली, कानून व्यवस्था व सेवा नियमों की जानकारी तथा कंप्यूटर तथा सीसीटीएनएस का सैद्धांतिक एवं व्यावहारिक प्रशिक्षण भी दिया गया।

 

शारीरिक प्रशिक्षण में परेड, फील्ड क्राफ्ट एवं हथियारों की जानकारी देने के साथ ही उनके उपयोग का प्रशिक्षण भी किया गया।  सामाजिक सरोकारो से जोड़ने के लिए विद्यार्थियों से संवाद करवाने के साथ-साथ बालको व महिलाओं से जुड़े विभिन्न सामाजिक एवं गैर सरकारी संस्थाओं का भ्रमण भी करवाया गया।

महानिदेशक ने श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले प्रशिक्षुओं को सम्मानित किया। उन्होंने आउटडोर में बेस्ट श्यामलाल, कम्प्यूटर प्रशिक्षण में नरेंद्र कुमार मीणा, निशानेबाजी में  श्यामलाल, इनडोर में पूजा व ओवरआल बेस्ट बाड़मेर की पूजा को सम्मानित किया। उल्लेखनीय है कि परेड कमांडर प्रशिक्षु कॉन्स्टेबल पूर्व में सेना में कारगिल युद्ध व आइएमए में प्रशिक्षक के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। 

डीजीपी ने इन्हें प्रशिक्षण देने वाले प्रशिक्षको को इनडोर में सुंदरलाल, आउटडोर में राजेन्द्र प्रसाद, कोर्स डायरेक्टर आउटडोर कम्पनी कमांडर वीणा व कैलाश चंद्र,  सब इंस्पेक्टर रामप्रसाद हेड कोंस्टेबल सुरेंद्र, राजस्थान स्टेट ओपन शूटिंग में पदक विजेता हेडकोंस्टेबल रेखा मीणा एवं बरसात में भीगते हुए ट्रैफिक संभालती कॉन्स्टेबल प्रियंका को भी सम्मानित किया। 

अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस एवं निदेशक राजस्थान पुलिस अकादमी श्री पी रामजी ने अपने स्वागत उदबोधन दिया और दीक्षांत परेड के संबंध में प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि 24 महिलाओं सहित कुल 125 प्रशिक्षु कॉन्स्टेबल के इस बैच को कुल 36 सप्ताह का प्रशिक्षण दिया गया है। 

आरपीए उपनिदेशक प्रदीप मोहन शर्मा ने प्रशिक्षुओ को शपथ दिलाई। उपमहानिरीक्षक राजस्थान पुलिस अकादमी श्री कैलाश चंद्र ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस अवसर पर प्रशिक्षणार्थियों द्वारा प्रस्तुत जिप ड्रिल, पाइप बैंड, कमांडो,  सहित डेमो की उपस्थित दर्शकों ने करतल ध्वनि से सराहना की।

About The Author

Post Comment

Comment List

Latest News