मुख्यमंत्री ने 'इंदिराज हिमाचल-टूवर्ड्ज़ न्यू फ्रंटियर्ज' प्रदर्शनी का शुभारम्भ किया

By Desk
On
   मुख्यमंत्री ने 'इंदिराज हिमाचल-टूवर्ड्ज़ न्यू फ्रंटियर्ज' प्रदर्शनी का शुभारम्भ किया

शिमला । मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने ऐतिहासिक रिज मैदान के पदम कम्पलैक्स में ‘इंदिराज हिमाचल-टूवर्ड्ज़ न्यू फ्रंटियर्ज’ प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। इस प्रदर्शनी के माध्यम से भारत की प्रथम महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के योगदान को प्रदर्शित किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का राष्ट्र निर्माण में असाधारण योगदान रहा है। उनकी कूटनीति से देश को विश्व भर में एक विशेष पहचान मिली। यह प्रदर्शनी आमजन से उनके लगाव, उनके जीवन संघर्ष, हिमाचल एवं प्रदेश के लोगों के प्रति लगाव एवं उनकी विरासत को नए परिप्रेक्ष्य में दर्शाती है। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी भारत की पहली प्रधानमंत्री थीं, जिन्होंने देश की सेवा करते हुए अपना जीवन बलिदान किया।

Read More  हिमाचल विस उपचुनाव मतगणना रूझान: कांग्रेस सभी तीन सीटों पर आगे

प्रदर्शनी में दर्शाए गए अधिकतर छायाचित्र इंदिरा गांधी मैमोरियल ट्रस्ट नई दिल्ली की आरकाईव का हिस्सा हैं। यह प्रदर्शनी छायाचित्र के माध्यम से उनकी सामाजिक और राजनीतिक जीवन यात्रा को दर्शाती है जब वह पहली बार प्रधानमंत्री बनीं। इसके अलावा यह प्रदर्शनी उनके 1966-71, 1971-77 और 1980-84 के प्रधानमंत्री के रूप में कार्यकाल तथा 1977-80 के उनके विपक्ष के नेता के कार्यकाल पर प्रकाश डालती है।

Read More नेपाल में उप प्रधानमंत्री लामिछाने की राष्ट्रीय स्वतंत्र पार्टी ने भी प्रचंड से किया किनारा

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदिरा गांधी का हिमाचल प्रदेश के प्रति गहरा लगाव था और यहां के विकास लिए उनके दूरदर्शी प्रयासों को हिमाचलवासी सदैव याद रखेंगे। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी के नेतृत्व में 25 जनवरी, 1971 को हिमाचल प्रदेश को आधिकारिक रूप से पूर्ण राज्यत्व का दर्जा मिला और यह देश का 18वां राज्य बना। उस पल कोे हिमाचल प्रदेश की विकास गाथा का एक ऐतिहासिक क्षण बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदिरा गांधी पूर्ण राज्यत्व प्राप्ति दिवस पर भारी बर्फबारी के बावजूद शिमला के ऐतिहासिक रिज मैदान पर आयोजित समारोह में शामिल हुईं, जो उनके प्रदेश के प्रति गहरे लगाव को दर्शाता है।

Read More  राजनाथ सिंह ने कठुआ आतंकी हमले में 5 सैन्यकर्मियों की मौत पर जताया शोक

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के साथ इंदिरा गांधी का आत्मिक जुड़ाव भी रहा है। राजनीतिक जीवन त्यागने के उपरांत इंदिरा गांधी की मशोबरा की पहाड़ियों में बसने की चाह तथा राजीव गांधी द्वारा हिमालय पर उनकी अस्थियों को विसर्जित करने की इच्छा इस क्षेत्र के लिए उनके एवं उनके परिवार के गहरे प्रेम को दर्शाती है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Latest News

  न्याय संहिता से त्वरित न्याय मिलेगा और विश्वास भी बढ़ेगा- राजेंद्र शुक्ल न्याय संहिता से त्वरित न्याय मिलेगा और विश्वास भी बढ़ेगा- राजेंद्र शुक्ल
भाेपाल । भारतीय जनता पार्टी विधि प्रकोष्ठ द्वारा शनिवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में दण्ड संहिता से न्याय संहिता की...
10वीं-12वीं स्टेट ओपन परीक्षा में बड़े फर्जीवाडे का खुलासाः डमी अभ्यर्थी के रूप में परीक्षा देते बीस को पकड़ा
विदेशी ताकतों के कारण भी हमें लाेकसभा चुनाव में कम सीटें मिली : सहस्त्रबुद्धे
जी-7 व्यापार मंत्रियों की बैठक में भाग लेने रेजियो कैलाब्रिया का दौरे करेंगे गोयल
हरीश रावत ने काजी निजामुद्दीन को जीत की बधाई दी
वर्ल्ड स्काईडाइविंग डेः केंद्रीय पर्यटन मंत्री शेखावत ने उड़ते विमान से लगाई छलांग
छात्रसंघ राजनीति की पहली पाठशाला : गहलाेत